Sunday, May 15, 2011

DHAN PRAPTI KE UPAAE

श्री सूक्त ,श्री लक्ष्मी सूक्त का पाठ नित्य या शुकवार को करने से लक्ष्मी जी स्थाई रूप से निवास करती हैं 
घर में सप्ताह में एक बार नमक मिले पानी का पोंछा  लगाना सुख शांति को आमंत्रित करता है और घर में से नकारात्मक उर्जा का नाश करता है
घर में हर अमावस्या को पुरे घर की सफाई अवश्य करें और फालतू टुटा बेकार का समान कबाड़ी वाले को दे दें 
हर पूर्णिमा के दिन घर में या मंदिर में हवन करना भी अति शुभ होगा 
किसी भी दिन घर में लोबान का धुआं अवश्य दें 
संध्या काल या पूजा काल में मेहमान या किसी सुहागिन स्त्री का आना प्रमाण है की लक्ष्मी माँ घर में परवेश कर चुकी हैं. अति शुभ मन जाता है.
अपने कार्य स्थल से घर वापिस आते हुए खली हाथ घर न आएं , 
घर में नमक कभी खुला न रखें 


वास्तु आचार्य 
9013203040




No comments:

Post a Comment